छत्तीसगढ़राजनांदगांवराज्य

कोरोना की मार उस पर डॉक्टर से केमिस्ट का दुर्व्यवहार:-

कोरोना की मार उस पर डॉक्टर से केमिस्ट का दुर्व्यवहार:-

आज डोंगरगांव अंचल में कोरोना काल मे नगर के डॉक्टर से हुए दुर्व्यवहार पर नगर की जनता में आक्रोश का माहौल निर्मित था,जिसे लेकर नगर में सभी तरफ चर्चा गर्म थी।जिसको लेकर नगर के व्यापारी एवं सभी दल के नेता एक साथ विरोध में खड़े नजर आए,ऐसा पहली दफा नगर में देखा गया.
रविवार को डोंगरगांव नगर के सम्मानित एवं प्रतिष्ठित डॉक्टर श्री रतन मंडल जी के साथ नगर के ही दवा व्यवसायी द्वारा दुर्व्यवहार की घटना घटित हुई।कोरोना काल मे भी लोगो की मदद को खड़े रहने वाले डॉक्टर मंडल के पास एक बीमार व्यक्ति पहुँचा, उक्त व्यक्ति ने डॉक्टर मंडल को अपनी पीड़ा बताई,जिस पर उन्होंने तत्काल ही खड़े खड़े एक कागज पर दवा लिखकर दे दी।जिसे लेने के लिए उक्त मरीज स्थानीय विजय मेडिकल पहुँचा।जिस पर मेडिकल संचालक श्री हरि शंकर साहू ने लिखी हुई दवा न देकर दूसरी दवा पकड़ा दी।जानकारी के अभाव में मरीज दवा लेकर डॉक्टर के पास पहुचा डॉक्टर ने उक्त दवा को उनके स्वास्थ्य के उपयुक्त नही है कहकर वापस कर लिखी दवा लेने को कहा।मरीज द्वारा पुनः विजय मेडिकल जाने पर संचालक द्वारा डॉक्टर मंडल को कॉल कर दुर्व्यवहार करते हुए अभद्र गालियां,देने लगा।बात ही बात में उसने देख लेने की धमकी भी दे दी।शांत स्वभाव के श्री मंडल जी के द्वारा कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई।तदुपरांत आवेश में आकर हरिशंकर साहू उनके घर तक पहुँच कर गाली गलौच करने लगा।गुस्सा शांत न होने पर वह उन्हें जातिगत गालियाँ देने लगा।फोन पर की हुई अभद्रता रिकॉर्ड हो गई,जो कि धीरे से पूरे नगर में फैल गई,चर्चा में यह भी विषय गर्म रहा कि मेडीकल संचालक को विधायक दलेश्वर साहू के करीबी रिश्तेदार होने के कारण उस पर कोई कार्यवाही नही होती।क्योंकि पूर्व में नगर में स्थित कर्मा मेडिकल के संचालक श्री घनश्याम साहू के साथ दुकान पर ही मारपीट गाली गलौच की जिस पर घनश्याम साहू के शिकायत पर पुलिस विभाग द्वारा कोई कार्यवाही नहीं कि गई,और फर्जी जांच कर भी उसे परेशान किया गया।सुबह होते ही पूरे नगर में आक्रोश का माहौल निर्मित हो गया।डॉक्टर मंडल के पक्ष में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होने लगे जिस पर डॉक्टर ने कोरोना काल की बात करते हुए सभी को समझाया और फिर नगर के सभी व्यापारियों और सभी दल के नेताओ के आग्रह पर थाने पहुँच,शिकायत दर्ज कराई।स्वस्फूर्त ही नगर के सभी धड़े जो हमेशा वैचारिक रूप से एक दूसरे के खिलाफ रहने वाले एक साथ खड़े नजर आए।डोंगरगांव नगर में प्रथम दफा ऐसा देखा गया कि सभी वर्ग के लोग व्यापारी ,नेता,कर्मचारी, मजदूर सभी नगर के डॉक्टर के साथ खड़े नजर आए।अब नगर के लोगो को इंतजार है कि एक सेवाभावी डॉक्टर को न्याय मिलता है,या मंत्री जी के रिश्तेदार होने का लाभ मेडिकल संचालक को।

राजनांदगांव से मानसिंग की रिपोर्ट…….

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
LIVE OFFLINE
track image
Loading...
Close
Close