अपराधकोरबाछत्तीसगढ़राज्य

कुसमुंडा थाना का प्रभार संभालते ही थाना प्रभारी लीलाधर राठौर की पहली कार्यवाही, ढाई सौ लीटर डीजल के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार…

कोरबा/कुसमुंडा :- तेज- तर्रार निरीक्षक के रूप में पहचाने जाने वाले टीआई लीलाधर राठौर का स्थान्तरण पाली से कुसमुंडा थाना किया गया जहां का प्रभार संभालते ही उन्होंने डीजल चोरी के मामले में पहली धरपकड़ कार्यवाही करते हुए डीजल चोरों के हौसले कमजोर किये है।

निरीक्षक लीलाधर राठौर द्वारा कुसमुंडा थाने का प्रभार लेने के साथ ही मुखबिर सूचना तंत्र को अवैध क्रियाकलापों की जानकारी से अवगत कराने सक्रिय किया गया जहां मुखबिर के माध्यम से उन्हें सूचना मिली कि एसईसीएल कुसमुंडा खुली खदान में तकरीबन आधा दर्जन से अधिक की संख्या में चोर तत्व धुस खड़ी वाहनों से डीजल की चोरी कर ले जाने के फिराक में है। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी राठौर ने तत्काल एक टीम गठित किया और खदान के समीप घेराबंदी करते हुए डीजल चोरों को पकड़ने का प्रयास किया इस दौरान एक आरोपी चंद्रभान रात्रे पकड़ में आया जबकि गिरोह के 6 अन्य सदस्य मौके से फरार हो गए। पुलिस ने चोरी का ढाई सौ लीटर डीजल व 3 मोटरसाइकल मौका स्थल से जप्त किया है।वहीं फरार आरोपियों में रेशम लाल सतनामी, मनोज कुमार सारथी, अश्वनी कुमार रात्रे, संतराम कुर्रे , राजेंद्र रात्रे व विजय रात्रे जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है। मामले में पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध धारा 41 (1- 4) 379 भादवि के तहत कार्यवाही की है।बता दें कि नव पदस्थ पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा जिला पुलिस का कमान सम्हालते ही डीजल, कोयला कबाड़ चोरों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही के संबंध में सभी थाना, चौंकी प्रभारियों को निर्देश दिए गए है जिसके परिपालन में नगर पुलिस अधीक्षक श्री खोमन लाल सिन्हा के मार्गदर्शन पर डीजल चोरों के विरुद्ध कार्यवाही करने सभी पुलिस थानों में मुखबिर लगाया गया है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
Close