कोरबाछत्तीसगढ़ताजा ख़बरेंब्रेकिंग न्यूज़राज्य

कोरबा : अजगरबहार को तहसील बनाने दो दिसंबर तक ली जाएंगी आपत्तियां और सुझाव

कोरबा : अजगरबहार को तहसील बनाने दो दिसंबर तक ली जाएंगी आपत्तियां और सुझाव

cspdcl

मुख्यमंत्री बघेल ने पिछले स्वतंत्रता दिवस पर की थी अजगरबहार को तहसील बनाने की घोषणा

कोरबा 08 नवंबर 2021मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पिछले स्वतंत्रता दिवस पर अजगरबहार को नई तहसील का दर्जा देने की घोषणा जल्द ही मूर्त रूप लेने वाली है। राज्य सरकार ने कोरबा जिले के अजगरबहार को नई तहसील का दर्जा देने के लिए पहले ही छत्तीसगढ़ राजपत्र में अधिसूचना जारी कर दी है और दो दिसंबर तक इस संबंध में नागरिकों से आपत्तियां और सुझाव मंगाए गए हैं। समय सीमा में मिले सुझावों और आपत्तियों का निराकरण कर अजगरबहार को नई तहसील का दर्जा दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री बघेल के कोरबा प्रवास के दौरान राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने प्रशासनिक सुगमता और आमजनों की सहुलियत के लिए अजगरबहार को तहसील बनाने की मांग की थी। उस समय भी मुख्यमंत्री ने इस पर सहमति जताई थी और उन्होंने अजगरबहार को तहसील बनाने की घोषणा कर क्षेत्रवासियों को स्वतंत्रता दिवस का उपहार दिया था। अजगरबहार के नई तहसील बन जाने से इस क्षेत्र के दूरस्थ वनांचलों में रहने वाले लोगों को अपने जमीन-जायदाद संबंधी कामों-नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, फौती, नक्शा-खसरा बी-1 आदि के साथ-साथ निवास, जाति और आय प्रमाण पत्र जैसे दस्तावेज बनवाने में भी सहुलियत होगी। कम समय में कम दूरी तय कर समय और धन की बचत के साथ लोगों का काम आसानी से हो सकेगा।
    

PosterMaker_23032022_101003
IMG-20220421-WA0160
cm ads

अजगरबहार को तहसील बनाने के लिए राज्य सरकार के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने पिछले महीने की चार तारीख को असाधारण राजपत्र में अधिसूचना जारी की है। अधिसूचना प्रकाशन के दिन से साठ दिन के भीतर नागरिकों से इस संबंध में लिखित सुझाव एवं आपत्तियां भी मांगी गई है। इस हिसाब से अजगरबहार को नई तहसील बनाने के संबंध में आपत्तियां और सुझाव दो दिसंबर तक लिए जाएंगे। निर्धारित समयावधि में मिले सुझाव और आपत्तियों को एसडीएम कोरबा और कलेक्टर कोरबा के माध्यम से राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव को भेजा जाएगा जहां इन पर उचित कार्रवाई कर निराकरण उपरांत अजगरबहार को नई तहसील का दर्जा मिलेगा।

नई तहसील में 41 गांव, नौ पटवारी हल्के और लगभग 22 हजार होगी जनसंख्या – अजगरबहार अभी कोरबा तहसील का हिस्सा है। अजगरबहार की कोरबा तहसील मुख्यालय से दूरी 25 से 28 किलोमीटर है। वहीं इसके आगे के दूरस्थ गांव कोरबा तहसील मुख्यालय से 55 से 60 किलोमीटर तक भी स्थित हैं। अजगरबहार के तहसील बन जाने से इस इलाके के 41 गांवो के लोगों को अपने राजस्व संबंधी प्रकरणों के लिए कोरबा नहीं आना पड़ेगा। नई अजगरबहार तहसील में 13 ग्राम पंचायतें शामिल होंगी। मकबूजा और गैरमकबूजा रकबा मिलाकर यह तहसील 14 हजार 476 हेक्टेयर क्षेत्रफल की होगी। इस तहसील में शामिल 41 गांवो की कुल जनसंख्या लगभग 22 हजार है। तहसील क्षेत्र में तीन हजार 508 खातेधार होंगे। तहसील में एक राजस्व निरीक्षक मण्डल अजगरबहार और दस पटवारी हल्के होंगे। तहसील की उत्तरी सीमा सूरजपुर जिले की उदयपुर तहसील से मिलेगी। दक्षिणी और पूर्वी सीमा कोरबा तहसील से और पश्चिमी सीमा पोड़ी-उपरोड़ा तहसील से लगी होगी।

IMG-20220114-WA0005

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
Close